महिलाओं के लिए आत्मरक्षा प्रशिक्षण कार्यक्रम का आयोजन.. जिले की 2 हजार महिलाएं व युवतियां होंगी शामिल.. द विजडम ट्री फाउंडेशन और चौकसे कालेज का संयुक्त कार्यक्रम..

लोकेश वाघमारे

बिलासपुर ( न्यूज़लूक डॉट इन ) // आज के बदलते परिवेश और माहौल में पूरे देश में जिस तरह महिलाओं पर अत्याचार, उत्पीड़न छेड़खानी, बलात्कार जैसी वारदातो में इजाफा हो रहा है ये सरकार और समाज दोनो के लिए एक चिन्तनीय विषय है। रोज कही न कही युवतीओं और महिलाओं के साथ रेप,एसिड अटैक,हत्या जैसे मामलों की खबर सुनने को मिल रही है जिससे महिलाओं को घर से निकलने और अकेले जाने में डर लगा रहता है खास कर उन महिलाओं को जो अकेली रहती है इसलिए महिलाओं को आत्मरक्षा के लिए उन्हें सशक्त बनाने के लिए कार्यक्रम का आयोजन किया जा रहा है ।

द विजडम ट्री फाउंडेशन एवं चौकसे ग्रुप ऑफ कालेज के द्वारा महिलाओ को आत्मरक्षा के गुर सिखाने और सशक्त बनाने Women Self Defense Training Program तीन दिवसीय कार्यक्रम का आयोजन किया जा रहा है यह कार्यक्रम 15,16,व 17 जनवरी तक चलेगा जिसमें महिलाओ को अपनी सुरक्षा करने के तरीके सिखाए जाएंगे। कार्यक्रम में बिलासपुर जिले की करीब 2 हजार युवतियां और महिलाएं शामिल होंगी । इस कार्यक्रम में मुख्य रूप से छग के गृहमंत्री ताम्रध्वज साहू, संसद अरुण साव शामिल होंगे इनके अलावा डिप्टी कमिश्नर फरिहा आलम सिद्दीकी, प्रो. वेंकट स्वामी, एआईसीसी- ओबीसी के नेशनल कोआर्डिनेटर सम्मिलित होंगे । कार्यक्रम में विभिन्न क्षेत्रों की विशिष्ट महिलाओं का सम्मान भी किया जाएगा ।
द विजडम ट्री फाउंडेशन की संस्थापक डॉ. श्रीमती पलक जायसवाल और शिक्षाविद श्रीमती शुभदा जोगलेकर ने बताया कि इस प्रशिक्षण कार्यक्रम में प्रतिभागियों की सेफ्टी पिन, दउपट्टे दुपट्टे और महिलाओ के उपयोग में आने वाली सामग्रियों के जरिए आत्मरक्षा के उपाय सिखलाए जाएंगे । साथ ही कराटे की बारीकियों तथा किक पंच आदि की जानकारी भी दी जाएंगी। उन्होंने बताया की इस कार्यक्रम में सम्मिलित होने के 2 हजार शालेय छात्राओं और महिलाओं का पंजीयन हो चुका है ।

द विजडम फाउंडेशन की स्थापना डॉ. श्रीमती पलक जायसवाल ने की है ।यह फाउंडेशन महिला सशक्तिकरण, साक्षरता, समाज के सम्पूर्ण विकास जैसे अनेक क्षेत्रों में कार्य करेगा,श्रीमती जायसवाल 10 वर्षो से सामाजिक कार्यों से जुड़ी है उन्होंने बताया है कि गवर्मेन्ट रिकार्ड के अनुसार छग में महिला व पुरूष का लिंगानुपात 991 प्रति 1000 है जिसमें 60 % महिलाए शिक्षित है जो अन्य राज्यों से काफ़ी अच्छा है लेकिन महिलाओं से जुड़े अपराधों के हिसाब से अपराध दर के मामले में छग की हमारी स्थिति अच्छी नही है।प्रायः लोगो की मानसिकता यह होती हैं कि महिलाओं पर अत्याचार,उत्पीड़न पिछड़े क्षेत्रों में ज्यादा होते है या उन महिलाओं के साथ होता है जो कम पढ़ी या अशिक्षित होती है लेकिन नेशनल क्राइम रिकार्ड के अनुसार छग में महिलाओं के उत्पीड़न के सर्वाधिक मामले छग राजधानी रायपुर में दर्ज किए गए है जो ये दर्शाता है कि शिक्षित व सभ्य समाज में इस तरह की मानसिक विकृतियां ज्यादा फैली है ।इसलिए विजडम ट्री फाउंडेशन और चौकसे कालेज मिल कर महिला सशक्तिकरण और महिलाओं को शारिरिक और बौद्धिक रूप से सशक्त करने के लिए कार्यक्रम का आयोजन कर रही है ।
इस कायर्क्रम के बाद महिलाओ हेतु हेल्प लाइन नंबर भी जारी किया जाएगा ।।

Author Profile

Lokesh war waghmare - Founder/ Editor

Lokesh war waghmare - Founder/ Editor

Next Post

नगर सैनिकों ने निकाली जनजागरण रैली..शहर में शुरू हुआ यातायात व सड़क सुरक्षा सप्ताह..

Sat Jan 11 , 2020
शशि कोंन्हेर बिलासपुर // स्मार्ट सिटी बिलासपुर में शनिवार की सुबह पूरे तामझाम के साथ सड़क सुरक्षा सप्ताह की कवायद शुरू की गई। 11 जनवरी से शुरू होकर आज 17 जनवरी तक चलने वाले इस सप्ताह में आम जनता और खासकर वाहन चालकों को सड़क पर चलने के नियमो और […]

You May Like

Breaking News