सड़को के लिए तरसते ग्रामीण और रसूखदारों के खेत, फॉर्महाउस तक पहुंच रही पक्की रोड… पंचायत और जिला पंचायत का कारनामा… व्यक्ति विशेष को लाभ पहुंचाने सरकारी फंड का दुरुपयोग… नहर से फॉर्महाउस तक बना दी सीसीरोड…

सड़को के लिए तरसते ग्रामीण और रसूखदारों के खेत, फॉर्महाउस तक पहुंच रही पक्की रोड… पंचायत और जिला पंचायत का कारनामा… व्यक्ति विशेष को लाभ पहुंचाने सरकारी फंड का दुरुपयोग… नहर से फॉर्महाउस तक बना दी सीसीरोड…

बिलासपुर, नवंबर, 24/2022

जिला पंचायत में नया कारनामा सामने आया है जहां सरकारी पैसे का दुरुपयोग करते हुए एक व्यक्ति विशेष के फॉर्महाउस तक जाने के लिए लाखो रुपए की सड़क बनाने प्रस्ताव पास कर राशि भी स्वीकृत करा ली गई है। एक तरफ आम जनता गांव में चलने सड़क नहीं मिलती और रसूखदार अपनी पहुंच से सरकारी फंड से फॉर्महाउस तक पहुंचने सड़क बनवा रहे है। सरकारी पैसे से गांव का नही निजी व्यक्तियों का विकास हो रहा है इस मामले में शिकायत मिलने के बाद अब जिला पंचायत सीईओ जयश्री जैन ने मामले की जानकारी लेकर जांच करने की बात कही है।

देखा जाए तो इन दिनों विकास गांव तो पहुंच रहा है पर ग्रामीणों तक नहीं बल्कि रसूखदारों के फॉर्महाउस। जी हां गांव में विकास के लिए बनाई जा रही सड़क दरअसल ग्रामीणों के लिए नहीं बल्कि रसूखदारों के खेत, फर्महाऊस तक पहुंच रही है। जबकि उसी गांव के ग्रामीण जरूरत की सड़को के लिए तरस रहे है और सरकारी फंड से रसूखदारों के लिए चकाचक सड़को का निर्माण कराया जा रहा है।

जिला पंचायत सीईओ से हुई शिकायत….

जिला जनपद उपाध्यक्ष विक्रम सिंह ने इस मामले की शिकायत जिला पंचायत सीईओ से की है उन्होंने बताया की कुछ लोगो के लिए निजी स्वार्थ में सरकारी पैसों का दुरुपयोग किया जा था है। आरोप लगाते हुए जनपद उपाध्यक्ष ने पूरे मामले में जांच कराने और दोषियों पर कार्रवाई की मांग की है।

आपको बता दे की बिल्हा जनपद पंचायत में ग्रामीणों के लिए नहीं बल्कि रसूखदारों के निजी लाभ के लिए सड़कों का निर्माण किया जा रहा है। सड़क की लागत 7.80 लाख की लागत है। एक सड़क जिला पंचायत विकास निधि तो दूसरी 15वें वित्त मद से निर्माण कराया जा रहा है। इसके लिए स्वीकृति भी मिल चुकी है। इन सड़कों का निर्माण ग्राम पंचायत करेगी।
ग्राम सेमरा में जिला पंचायत विकास निधि से अभिषेक गौरहा के खेत से दिलीप गौरहा के खेत तक सीसी रोड का निर्माण 3.90 लाख से तो दूसरी सड़क दिलीप गौरहा के खेत से नहर तक 150मीटर जिसकी लागत 3.90 लाख है ये सड़क 15वें वित्त आयोग से स्वीकृत है। इस मामले में गांव वालो का कहना हैं की इस सड़क से ग्रामीणों को कोई फायदा नही मिलना है। इससे सिर्फ व्यक्ति विशेष को ही लाभ मिल पाएगा। इस से तो साफ है की सड़को का निर्माण व्यक्ति विशेष को लाभ पहुंचाने बनाई जाएंगी।

ऐसा ही एक और मामला ग्राम पौंसरा का है जहां व्यक्ति विशेष को लाभ पहुंचाने उसके फॉर्महाउस से मुख्य मार्ग तक 500 मीटर तक की सड़क को 5 टुकड़ों में सीसी रोड निर्माण की स्वीकृति दी है। यह फार्महाउस संतोष अग्रवाल का है। इस सड़क के लिए 2.60 लाख रुपए जारी किए गए है। संचाननालय ने अग्रवाल के फॉर्महाउस से मुख्य मार्ग तक 13 लाख की स्वीकृति दी थी। स्वीकृति मिलते ही तत्काल ग्राम पंचायत सरपंच ने सीसी रोड का निर्माण करा दिया।

कैसे हो रह सरकारी फंड का दुरुपयोग…

ग्राम पंचायत पौंसरा में जिस सीसी सड़क का निर्माण कराया गया है वहा सड़क के किनारे किसी का भी घर या दुकान नहीं है। सड़क जहां खत्म हो रही है वहा संतोष अग्रवाल का फॉर्महाउस है। पंचायत और जिला पंचायत के अधिकारियों ने एक व्यक्ति विशेष को फायदा पहुंचाने सरकारी फंड दुरुपयोग कर रही है। हालांकि ऐसा ये पहला मामला नहीं है इसके पहले भी पंचायत और जिला पंचायत में सड़को का निर्माण निजी लाभ के लिए और व्यक्ति विशेष को लाभ पंचाने के लिए बनाई जा चुकी है जिसकी शिकायते भी हुई है और अभी भी कछुआ गति से जांच चल रही है।

Lokesh war waghmare - Founder/ Editor

Next Post

मितानिनों ने कोरोना संक्रमण के समय लोगों की फरिश्ता बनकर सेवा की - - - शैलेष पाण्डेय... मितानिन दिवस के अवसर पर नगर विधायक शैलेष पांडेय ने मितानिनों का किया सम्मान...

Thu Nov 24 , 2022
मितानिनों ने कोरोना संक्रमण के समय लोगों की फरिश्ता बनकर सेवा की – – – शैलेष पाण्डेय.. मितानिन दिवस के अवसर पर नगर विधायक शैलेष पांडेय ने मितानिनों का किया सम्मान… बिलासपुर, नवंबर, 24/2022 बुधवार 23 नवंबर को मितानिन दिवस के अवसर पर सिम्स ऑडिटोरियम में आयोजित मितानिन सम्मान समारोह […]

You May Like

Breaking News