हाईप्रोफाइल सीट बेलतरा में क्या कांग्रेस की राह होगी आसान… बागी बिगाड़ते रहे है खेल… भाजपा कांग्रेस का है फोकस…

हाईप्रोफाइल सीट बेलतरा में क्या कांग्रेस की राह होगी आसान… बागी बिगाड़ते रहे है खेल… भाजपा कांग्रेस का है फोकस…

बिलासपुर, बेलतरा अक्टूबर, 24/2023

बिलासपुर जिले की हाईप्रोफाइल माने जाने वाली सीट बेलतरा विधनसभा में कांग्रेस पार्टी के अधिकृत प्रत्याशी विजय केशरवानी की राह आसान होते नजर नहीं आ रही है। बेलतरा सीट के मतदाता और स्थानीय नेता उन्हे बाहरी प्रत्याशी बता कर उनका विरोध कर रहे है। ऐसे में कांग्रेस के लिए इस सीट पर चुनाव जीतना आसान नहीं है। पिछले 6 विधनसभा चुनाव में भाजपा ही इस हाईप्रोफाइल सीट से जीतती आ रही है। 2008 के बाद 2 बार यहां से भाजपा के बद्रीधर दीवान और 1 बार रजनीश सिंह यहां से विधायक चुने गए है। इस बार भी कांग्रेस के स्थानीय नेता बगावत के सुर तेज कर दिए है और पार्टी के अधिकृत प्रत्याशी विजय केशरवानी का विरोध कर रहे है। है साथ ही कांग्रेस की टिकट बदलने पार्टी पर दबाव बना रहे है। हालांकि अभी तक भाजपा ने इस सीट से अपना उम्मीदवार घोषित नहीं किया है।

कांग्रेस नेता त्रिलोक श्रीवास एवं उनकी धर्मपत्नी को बेलतरा विधानसभा से टिकट नहीं मिलने पर समर्थकों और क्षेत्रवासियों में जबरदस्त गुस्सा और नाराजगी है, त्रिलोकचंद श्रीवास ने कहा कि पांचवीं बार कांग्रेस पार्टी ने उन्हें टिकट नहीं दिया है, कांग्रेस पार्टी ने तय किया था, कि जीतने वाले उम्मीदवार स्थानीय और सर्वे के आधार पर टिकट दिया जाएगा, जो व्यक्ति क्षेत्र  का है ही नहीं, और जिसका सर्वे में कहीं दूर-दूर तक नाम नहीं है ,उन्हें टिकट दिया गया है ,किसी भी क्षेत्रीय व्यक्ति को टिकट दिया जाता तो वह और उनके पूरे समर्थक उसका समर्थन करते ,परंतु यदि बेलतरा विधानसभा क्षेत्र में बाहरी व्यक्ति को लाकर थोप दिया गया है।जिससे पूरे क्षेत्र में  नाराजगी है एवं असंतोष व्याप्त है।

बेलतरा विधानसभा सीट पर कांग्रेस ने अपने उम्मीदवार को जीता पाने में नाकाम होते आई है और ये सारा खेल इस सीट पर कांग्रेस के बागियों ने ही बिगड़ा है। 2008 और 2013 के विधानसभा चुनाव में कांग्रेस ने भुवनेश्वर यादव को टिकट दी थी लेकिन इससे कांग्रेस के स्थानीय नेता त्रिलोक श्रीवास कांग्रेस से बगावत कर समाजवादी पार्टी से चुनाव लड़े थे। बेलतरा विधानसभा सीट बिलासपुर लोकसभा सीट का हिस्सा है, जो केंद्रीय इलाके में पड़ता है।

2018 के चुनाव…

बिलासपुर जिले में बेलतारा विधानसभा क्षेत्र जो अनारक्षित है। पिछले विधानसभा चुनाव, यानी वर्ष 2018 के चुनाव में यहां कुल मिलाकर 211408 मतदाता थे, जिन्होंने बीजेपी के प्रत्याशी रजनीश कुमार सिंह को 49601 वोट देकर जिताया था। उधर, कांग्रेस उम्मीदवार राजेंद्र साहू (डब्बू) को 43342 वोट हासिल हो सके थे, और वह 6259 वोटों से हार गए थे। वही जनता कांग्रेस जोगी पार्टी के अनिल टाह को  38308 वोट मिले थे अनिल टाह पहले कांग्रेस पार्टी से जुड़े थे अजीत जोगी को कांग्रेस से निकालने के बाद वो भी जोगी के साथ हो गए। 2018 के चुनाव में कांग्रेस को काफी नुकसान पहुंचाया था।

2013 चुनाव…

2013 में इस विधानसभा सीट में वोटरों की कुल संख्या 181317 थी। 2013 के विधानसभा चुनाव में इस सीट पर बद्रीधर दीवान (बीजेपी) ने 50890 वोट हासिल कर जीत दर्ज की थी। उन्होंने अपने प्रतिद्वंदी को 5728 मतों के अंतर से हराया। दूसरा स्थान (45162) वोटों के साथ भुवनेश्वर यादव (कांग्रेस) को मिला। तीसरा स्थान (11194) वोटों के साथ देव कुमार कनेरी (बीएसपी) का रहा। (8359) वोटों के साथ एसपी के त्रिलोक श्रीवास (कांग्रेस के बागी) को मिला चौथा स्थान को मिला चुनाव में कुल 126190 मत पड़े थे। कुल 69.6% मतदान हुआ।

2008 के चुनाव…

इससे पहले, बेलतारा विधानसभा क्षेत्र में वर्ष 2008 में हुए विधानसभा चुनाव में बीजेपी पार्टी के प्रत्याशी बद्रीधर दीवान ने कुल 38867 वोट हासिल कर जीत दर्ज की थी, और कांग्रेस उम्मीदवार भुवनेश्वर प्रसाद यादव दूसरे स्थान पर रहे थे, जिन्हें 33891 मतदाताओं का समर्थन हासिल हो सका था, और वह 4976 वोटों के अंतर से विधानसभा चुनाव हार गए थे।

बेलतरा से पहले थी सीपत विधानसभा…

बता दें कि बेलतरा से पहले सीपत विधानसभा हुआ करता था। 2008 में परिसीमन के बाद सीपत की जगह बेलतरा विधानसभा सीट का गठन हुआ। सीपत विधानसभा पर तब बसपा का कब्जा था। बसपा के रामेश्वर खरे यहां से विधायक थे. बसपा से पहले सीपत कांग्रेस का गढ़ हुआ करता था। साल 2003 के बाद से बेलतरा विधानसभा बीजेपी के कब्जे में है। भाजपा के वरिष्ठ नेता बद्रीधर दीवान यहां से लगातार चुनाव जीतते रहे हैं।  उनके बाद अब भाजपा के ही रजनीश सिंह यहां से विधायक हैं।

Author Profile

Lokesh war waghmare - Founder/ Editor
Latest entries

Lokesh war waghmare - Founder/ Editor

Next Post

<em>बड़ी खबर : कांग्रेस नेत्री अंबालिका ने थामा बीजेपी का दामन… बिल्हा क्षेत्र में कांग्रेस की बढ़ सकती है मुश्किलें…</em>

Tue Oct 24 , 2023
बड़ी खबर : कांग्रेस नेत्री अंबालिका ने थामा बीजेपी का दामन… बिल्हा क्षेत्र में कांग्रेस की बढ़ सकती है मुश्किलें… बिलासपुर, अक्टूबर, 24/2023 छत्तीसगढ में विधानसभा चुनाव शुरू हो गए है ऐसे में टिकट ना मिलने से नाराज दोनो राजनैतिक पार्टी के नेता नाराज हो कर बागी बन रहे है। […]

You May Like

Breaking News