बोदरी नगर पंचायत चुनाव में हुआ खेल .. सिंधी समाज अपने को ठगा महसूस कर रहा… 5 हजार मतदाता फिर भी प्रतिनिधत्व नही मिला समाज को..

बिलासपुर // बोदरी नगर पंचायत में खेल हो गया ….. बोदरी नगर पंचायत में चकरभाठा कैम्प है जहाँ सिंधियों की आबादी लगभग साढ़े सात हज़ार है और कुल 16000 मतदाताओं में 5000 मतदाता सिंध समाज से हैं, कुल 15 वार्डों में से छः वार्डों में सिंध समाज तय करता है कि इन वार्डों में उनका प्रतिनिधि कौन होगा? इस पर गौर करने वाली बात ये है कि आमतौर पर सिंध समाज को भाजपा समर्थित माना जाता है लेकिन बोदरी नगर पंचायत में आने वाले चकरभाठा कैम्प के सिंधी समाज अपने एक सिंधी युवा विजय वर्मा के कारण कांग्रेस को वोट करते हैं। ऐसे में बोदरी नगर पंचायत में सिंधु समाज का अध्यक्ष नहीं तो उपाध्यक्ष पद मिले ऐसी प्रदेश के मुखिया की मंशा थी(सूत्रों के अनुसार).
लेकिन शनिवार को बोदरी में कुछ ऐसा खेल हो गया की जिस कांग्रेसी नेता को बोदरी नगर पंचायत का जिम्मा दिया गया था वो ना जाने क्यों और किसके कहने से बहक गया और दोनों पदों से उसने विजय वर्मा को बाहर कर दिया?
अध्यक्ष पद तय होने के बाद रायपुर रोड स्थित श्याम वाटिका में कांग्रेस के निर्वाचित पार्षदों और पार्षद पतियों को खुलेआम धमकाया गया और उपाध्यक्ष पद के लिये नये नाम पर वोट करने के लिये कहा गया।
उधर विजय वर्मा(भा) ने भी उपाध्यक्ष पद के लिये नामांकन दाखिल कर दिया, विजय ने इसकी वजह बताई की समाज के दबाव में उन्होंने ऐसा किया है साथ ही प्रदेश के मुखिया तक भी ये संदेश जायेगा कि मुझे बाहर किया गया है। बहरहाल विजय को सिर्फ चार वोट मिले और वो पूर्व अध्यक्ष अंजू दुबे के देवर अभिषेक दुबे से हार गया।
खबर सिर्फ इतनी है कि CM के आश्वासन के बाद भी बोदरी नगर पंचायत में अपने समाज की अवहेलना से चकरभाठा का सिंध समाज अपने को ठगा हुआ महसूस कर रहा है।

Author Profile

Lokesh war waghmare - Founder/ Editor
Latest entries

Lokesh war waghmare - Founder/ Editor

Next Post

दूर तक सुनाई देगी बिलासपुर के निगम चुनाव में भाजपा के घुटने टेक आत्मसमर्पण की अनुगूंज...

Sun Jan 5 , 2020
शशि कोंन्हेर बिलासपुर // अब बिलासपुर नगर निगम का चुनाव बिना किसी विघ्नबाधा के निपट गया। और इसमे कांग्रेस व महापौर रामशरण यादव और सभापति शेख नजीरुद्दीन ने पहली बार निर्विरोध निर्वाचन का इतिहास रच दिया। और काँग्रेस को मिली इस निर्विरोध निर्वाचन की ऐतिहासिक जीत का श्रेय कांग्रेस की […]

You May Like

Breaking News