अवैध प्लाटिंग : राजस्व अधिकारीयों , पटवारियों की मौन सहमति से भूमाफियाओं के द्वारा अवैध प्लाटिंग कर बनाई जा रही अवैध कॉलोनियां ,, सरकारी जमीनों पर भी कब्जा ,, शिकायत के बाद भी नही हो रही कार्यवाई ,,

बिलासपुर // बिलासपुर और आसपास के लगभग सभी ग्रामीण इलाकों में भूमाफिया सक्रिय है जहाँ किसानों से सस्ते दर पर जमीनों को खरीद कर उनमे बिना शासन की अनुमति के कच्ची व अवैध प्लाटिंग का खेल धड़ल्ले से खेला जा रहा है । राजस्व अधिकारी और पटवारियों को अवैध प्लाटिंग की जानकारी होने के बाद भी किसी तरह की कार्यवाही न करना आपसी सांठगांठ की ओर इशारा करता है ।

शहर से लगे उपतहसील सकरी के ग्राम घुरू,अमेरी,सैदा,मेंड्रा उसलापुर व सकरी सहित आसपास के कई इलाकों में भूमाफियाओं के द्वारा खुलेआम कच्ची अवैध प्लाटिंग का खेल खेला जा रहा है,नगर एवं ग्राम निवेश की बिना अनुमति के अवैध तरीके से कच्ची प्लाटिंग कर उसमें अवैध कालोनियां बनाई जा रही है जिसमें निजी जमीनों के साथ साथ सरकारी जमीनों पर भी कब्जा किया गया है । जिसकी वजह से सरकार को राजस्व का नुकसान उठाना पड़ रहा है ऐसा नही है कि इन सब की जानकारी राजस्व अधिकारियों और पटवारियों को नही है पर भूमाफ़ियाओं से सांठगांठ होने के कारण शिकायत होने के बाद भी उन पर किसी तरह की कोई कार्यवाई नहीं की जा रही । जिससे अवैध प्लाटिंग करने वालो के हौंसले बुलंद है ।

बतादें की शहर से लगे ग्राम पंचायतों में भूमाफ़ियाओं ने अपना जाल बिछा रखा है जहाँ बिना अनुमति के कालोनियों का निर्माण कर लोगो को ठगने का काम किया जा रहा है कम और सस्ते दामो का लालच और बड़े बड़े सब्जबाग दिखा कर कालोनियों में तरह तरह की सुविधाएं होना बता कर लोगो को लूटा जा रहा है, घर का सपना संजोय, खुद के आशियाने की चाह में लोग इनके झांसे में आ जाते है और प्लॉट या मकान खरीदने के बाद फिर खुद को ठगा हुआ महसूस करते है ।

ख़रीदी बिक्री पर बैन के बावजूद कर दी गयी रजिस्ट्री और नामांतरण …

उपतहसील सकरी के अंतर्गत आने वाले कुछ इलाकों में चल रहे अवैध प्लाटिंग की शिकायत उपतहसील सकरी और एसडीएम कार्यालय में कुछ महीनों पहले की गयी थी,जिसके बाद दिखावे के लिए कुछ खसरा नंबर पर कार्यवाही करते हुए उनकी खरीदी बिक्री पर रोक लगा दी गई थी, लेकिन भूमाफियों के साथ राजस्व अधिकारियों व पटवारियों की आपसी सांठगांठ व दोस्ताना रिश्तों का नतीजा है कि रोक के बावजूद घुरू,मेंड्रा की अवैध प्लाटिंग के कुछ प्लॉटो की रजिस्ट्री कर दी गयी ।

अवैध प्लाटिंग पर अगले अंक में और भी होंगे खुलासे…

भूमाफियाओं के राजस्व अधिकारियों व पटवारियों के साथ सांठगांठ किसी से छुपी नहीं है, सकरी उप तहसील अंतर्गत आने वाले पटवारी हल्को में सरकारी जमीन को दबाने उनका डायवर्सन कराने और अवैध प्लाटिंग का खेल करने वाले और भी बहुत से भूमाफिओं का नाम और खसरा नंबर सहित राजस्व अधिकारी व पटवारियों की भूमाफियाओं के सांठगांठ का भी करेंगे खुलासा.. पढ़ते रहिए news look.in !

Author Profile

Lokesh war waghmare - Founder/ Editor
Latest entries

Lokesh war waghmare - Founder/ Editor

Next Post

छत्तीसगढ़ : हाईकोर्ट का राज्य सरकार को बड़ा झटका ,, मीसा बंदियों के पक्ष में दिया फैसला,, रोकी गयी पेंशन तत्काल देने के आदेश ,,

Wed May 27 , 2020
छत्तीसगढ़ उच्च न्यायालय ने आज एक महत्वपूर्ण फैसले में मीसा बंदी नागरिकों के पेंशन संबंधी याचिका स्वीकृत कर ली । बिलासपुर // विदित हो कि आपातकाल के दौरान मीसा अधिनियम के अंतर्गत 25/06/1975 से 31/03/1977 तक कि अवधि में मीसा अधिनियम के प्रावधानों के अंतर्गत जेल में बंद नागरिकों को […]

You May Like

Breaking News