हिस्ट्रीशीटर को पकड़ने गई पुलिस पर अंधाधुंध फायरिंग ,, डीएसपी सहित 8 शहीद, 6 गंभीर ,,

बदमाश को पकड़ने गई पुलिस पर अंधाधुंध फायरिंग, डीएसपी सहित 8 शहीद, 6 गंभीर ,,कानपुर // चौबेपुर थाने के विकरू गांव में एक हिस्ट्रीशीटर को पकड़ने गई पुलिस टीम पर बदमाशों ने फायरिंग कर दी. उनके हथियार भी लूट लिए. इस हमले में 8 पुलिस वाले मौके पर ही शहीद हो गए, जबकि 6 की हालत गंभीर है, जिन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया है। कानपुर महानगर में बदमाशों और पुलिसकर्मियों के बीच मुठभेड़ हुई. इस घटना में 8 पुलिसकर्मी शहीद हो गये, जबकि एसओ बिठूर समेत छह पुलिसकर्मी घायल हो गये हैं. शहीद पुलिसकर्मियों में सीओ बिल्हौर देवेंद्र मिश्र, एसओ शिवराजपुर महेश यादव, एक सब इंस्पेक्टर समेत 5 सिपाही भी मुठभेड़ में शहीद हुए हैं.घायल एसओ और सभी पुलिसकर्मियों को गंभीर हालत में रीजेंसी अस्पताल लाया गया ।पुलिस टीम चौबेपुर थाना क्षेत्र के विकरू गांव में दबिश देने गई थी. बदमाशों ने पुलिस टीम पर अचानक फायरिंग कर दी. छतों से हमलावरों ने गोलियां बरसाई थीं, जिससे पुलिसकर्मी सीधे निशाने पर आ गए. मुठभेड़ के दौरान बिठूर थाना प्रभारी कौशलेंद्र प्रताप सिंह समेत कई पुलिसकर्मियों को गोली लगी. बदमाश पुलिस के कई असलहे भी लूट ले गए. बता दें, हिस्ट्रीशीटर विकास दुबे थाने में घुसकर राज्यमंत्री और पुलिसकर्मी सहित कई लोगों की हत्या कर चुका है. एडीजी कानपुर जोन आईजी रेंज एसएसपी कानपुर समेत कई जनपदों की पुलिस फ़ोर्स मौके पर मौजूद है. कॉम्बिंग जारी है।60 आपराधिक मामले दर्ज है ….

हिस्ट्रीशीटर विकास दुबे पर 60 आपराधिक मामले दर्ज हैं। 19 साल पहले उसने 2001 में थाने में घुसकर राज्यमंत्री संतोष शुक्ला की हत्या कर दी थी। इसके बाद उसने राजनीति में एंट्री ली। नगर पंचायत का चुनाव भी जीता था। विकास कई बार गिरफ्तार भी हुआ। 2017 में लखनऊ में एसटीएफ ने कृष्णा नगर से उसे दबोचा था।

हिस्ट्रीशीटर विकास कानपुर देहात के चौबेपुर थाना क्षेत्र के विकरू गांव का रहने वाला है। उसने कई युवाओं की फौज तैयार कर रखी है। इसी के साथ वह कानपुर नगर से लेकर कानपुर देहात तक लूट, डकैती, मर्डर जैसे अपराधों को अंजाम देता रहा है। 2000 में विकास ने शिवली इलाके के ताराचंद इंटर कॉलेज के सहायक प्रबंधक सिद्धेश्वर पांडेय की हत्या कर दी थी, जिसमें उसे उम्रकैद की सजा भी हुई थी।

शहीद पुलिस कर्मी ...1-देवेंद्र कुमार मिश्र, सीओ बिल्हौर
2-महेश यादव, एसओ शिवराजपुर
3-अनूप कुमार, चौकी इंचार्ज मंधना
4-नेबूलाल, सब इंस्पेक्टर शिवराजपुर
5-सुल्तान सिंह, कांस्टेबल थाना चौबेपुर
6-राहुल, कांस्टेबल बिठूर
7-जितेंद्र, कांस्टेबल बिठूर
8-बबलू, कांस्टेबल बिठूर

Author Profile

Lokesh war waghmare - Founder/ Editor
Latest entries

Lokesh war waghmare - Founder/ Editor

Next Post

फर्जी रसीदों के जरिए सैकड़ों गरीबों से आवास के नाम पर की गई लाखों की लूट ,, अटल आवास आवंटन के फर्जीवाड़े की जांच में और कितने दिन लगाएगी जांच कमेटी..? आखिर कौन दे रहा अभयदान ..?

Fri Jul 3 , 2020
गरीबों के लिए बने अटल आवास आवंटन के फर्जीवाड़े की जांच में और कितने दिन लगाएगी जांच कमेटी..? ,, बेघरबार गरीबों से हजारों रुपए वसूल कर जिस के हस्ताक्षर से फर्जी रसीदें जारी हुई है उसे कौन अभयदान दे रहा…? ,, जांच को निष्पक्ष बनाने के लिए सबसे पहले अपने […]

You May Like

Breaking News