ज्यादा मोबाइल इस्तेमाल करना महिला को पड़ा भारी ,, काटना पड़ा महिला का हाथ, मैसेज भेजते-भेजते हाथों का हो गया था खौफनाक हाल ,,

मोबाइल चलाने के कारण काटना पड़ा महिला का हाथ, मैसेज भेजते-भेजते हाथों का हो गया था खौफनाक हाल ,,

आज के समय में लोगों का ज्यादातर समय मोबाइल फोन में बीतता है। अपनों से मिलने-जुलने की जगह लोग अब वर्चुअल तरीके से एक-दूसरे से संपर्क में रहना पसंद करते हैं। फिलहाल तो कोरोना की वजह से इसमें और भी ज्यादा बढ़त देखने को मिली है। लेकिन क्या कभी फोन चलाते हुए आपने सोचा है कि इस कारण आपको विकलांग भी होना पड़ सकता है? नहीं ना… आयरलैंड में रहने वाली एक महिला ने भी कभी ऐसा नहीं सोचा था। लेकिन ज्यादा फोन का इस्तेमाल करने के कारण उसे अपना एक हाथ कटवाना पड़ा। फोन पर मैसेज टाइप करते रहने के कारण उसके हाथ का ऐसा खौफनाक हाल हो गया कि आखिरकार उसे अपनी जान बचाने के लिए हाथ कटवाना पड़ा। खुद इस महिला ने लोगों को अवेयर करने के लिए अपनी स्टोरी सबके साथ शेयर की है…

आयरलैंड में रहने वाली 35 साल की एमी लौरी ने अपनी स्टोरी लोगों के साथ शेयर की। इसमें ज्यादा मोबाइल चलाने की वजह से जो हुआ, वो वाकई हैरान करने वाला है ….

मी ने बताया कि नवंबर 2018 में उसने ध्यान दिया कि उसके हाथों में सूजन है। उसकी हथेली में सूजन नजर आ रही थी। एमी को लगा कि ज्यादा फोन चलाने की वजह से ऐसा हुआ होगा। इसके बाद उसने इसे इग्नोर कर दिया। एक साल तक उसके राइट हैंड में ये सूजन रही। तब जाकर एमी ने डॉक्टर से मिलने का फैसला किया। एमी ने डॉक्टर से अपॉइंटमेंट ली और उनसे मिलने पहुंची।

जब एमी की बायोप्सी की गई तो पता चला कि उसे कैंसर है। हाथों में हुई सूजन इसी कैंसर के कारण था। डॉक्टर्स ने रिपोर्ट देख एमी को बताया कि ये कैंसर उसके हाथ से होते हुए पूरे शरीर फ़ैल रहा है। इसलिए रोकने के लिए हाथ को काटना पड़ेगा। अपनी जान बचाने के लिए एमी को अपने हाथों को कटवाना पड़ा। एमी बताती हैं कि वो समय काफी मुश्किल था। हर सुबह जब उठती थी तो अपने कटे हाथ को देखकर काफी रोती थी।

एमी ने बताया कि शुरुआत में वो और उसके पति इस बात पर काफी मजाक उड़ाते थे कि मोबाइल पर मैसेज भेजने के कारण हाथ का ऐसा हाल हुआ है। लेकिन दोनों को क्या पता था की ये कैंसर का साइन था। एक साल तक इग्नोर करने के बाद एमी डॉक्टर के पास तब गई जब उसके हाथ में हुए फोड़ों में दर्द होने लगा। शुरुआत में डॉक्टर्स भी कन्फ्यूज थे कि ये फोड़े क्यों हो रहे हैं। लेकिन एमआरआई के बाद सर्जरी का फैसला लिया गया। सर्जरी के बाद अब एमी अपने हर काम के लिए पति पर डिपेंड करती हैं। एमी के हसबैंड ने इस मुश्किल समय में उसका काफी साथ दिया।

एमी ने बताया कि उसे इसका काफी गहरा सदमा लगा था। इससे उबरने में उसे काफी समय लगा। लेकिन अब यही उसकी जिंदगी है। साथ ही उसने लोगों से बॉडी में आए किसी बदलाव को हलके में ना लेने की सलाह दी। उसने कहा कि अगर आपको कुछ अलग लग रहा है तो तुरंत डॉक्टर की सलाह लें। इग्नोर करना महंगा पड़ सकता है।

Author Profile

Lokesh war waghmare - Founder/ Editor
Latest entries

Lokesh war waghmare - Founder/ Editor

Next Post

बड़ी वारदात : नशेड़ी युवक ने मचाया मौत का तांडव ,, अपने ही माँ-बाप ,दो भाई और बहन को उतार दिया मौत के घाट ,, वारदात के बाद सड़क पर मिला आरोपी का शव ,,

Fri Jul 24 , 2020
बिलासपुर // सीपत क्षेत्र से लगे मटियारी गांव के एक सिरफिरे युवक ने अपने ही परिवार के पांच लोगों को टंगिया से काट उनकी हत्या कर डाली । फिर गाड़ी के सामने कूदकर आत्महत्या कर ली। आरोपी की मौत हो जाने के कारण हत्या की वजह सामने नहीं आ पाई […]

You May Like

Breaking News