• Sat. Jun 22nd, 2024

News look.in

नज़र हर खबर पर

अधिकारियों की लापरवाही के चलते बृहस्पति बाजार के पास चंद्रा पार्क में हुआ कोरोना ब्लास्ट-एक साथ 16 और लोगों के पाज़िटिव होने की खबर ,,

अधिकारियों की लापरवाही के चलते बृहस्पति बाजार के पास चंद्रा पार्क में हुआ कोरोना ब्लास्ट-एक साथ 16 और लोगों के पाज़िटिव होने की खबर ,,

अभी भी चंद्रा पार्क कंटेनमेंट जोन के चारो ओर एक किलोमीटर क्षेत्र और उसके चारों ओर 3 किलोमीटर के बफर जोन में प्रतिबंधों की उड़ रही धज्जियां ,,

तिलक नगर के पार्षद राजेश सिंह ने एसडीएम को बताया हालात विस्फोटक हैं..प्रशासन को आवाजाही के अलावा कंटेनमेंट जोन और बफर जोन के नियम सख्ती से लागू करने चाहिए ,,

राजेश सिंह के मुताबिक एसडीएम ने कहा अभी हम देखते हैं ,,

बृहस्पति बाजार आसपास के क्षेत्र में सावधानी और सख्ती बेहद जरूरी ,,

बिलासपुर (शशि कोन्हेर) // एक ही जगह रहने वाले 19 कोरोना पॉजिटिव मिलने से बृहस्पति बाजार और तिलक नगर समेत पूरे बिलासपुर में सनसनी फैल गई है। सिम्स में पदस्थ जनसम्पर्क अधिकारी महिला चिकित्सक और उनके पति व बेटे की रिपोर्ट पॉजिटिव मिली है। गुरुवार को ही शाम होते-होते 16 और लोगो के संक्रमित पाए जाने की पुष्टि हो गयी, सभी संक्रमित वृहस्पति बाजार के चन्द्रा पार्क में रहने वाले बताये जा रहे हैं।

यहां कोरोना महामारी की शुरुवात इस महिला चिकित्सक के यहाँ घरेलू कार्य करने वाली नौकरानी के कुछ दिनों पहले संक्रमित पाए जाने के बाद महिला चिकित्सक उनके पति और बेटे समेत अपार्टमेंट में रहे वाले 30 लोगो के सेम्पल कोरोना जांच के लिए.. लिए गए थे। गुरुवार को सबसे पहले डॉक्टर दम्पति और उनके बेटे की रिपोर्ट पॉजिटिव आयी, इसके कुछ ही घण्टो बाद लिए गए सैम्पल में से 16 और लोगों की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आयी। इस खबर के बाद स्वास्थ्य विभाग समेत चन्द्रा पार्क में रहने वालों में हड़कम्प मच गया। स्वास्थ्य विभाग की टीम ने आनन-फानन यहां पहूँचकर सभी संक्रमितो को पूरी एहतियात के साथ एम्बुलेंस के जरिये कोविड अस्पताल पहुँचाया।

गौरतलब है कि चन्द्रा पार्क को पहले ही कंटेटमेंट जोन में डाल दिया गया था. लेकिन वहां लोगों का धड़ल्ले से आना-जाना बेरोकटोक जारी था। प्रशासन ने वहां किसी भी प्रकार की सावधानी बरतनी जरूरी नहीं समझी। यही रवैया अगर आगे भी जारी रहेगा यह पूरा एरिया कोरोनावायरस संक्रमण के नाम से खतरे की घंटी बन सकता है। अब जबकि यहां संक्रमितों का आंकड़ा 19 पहुंच गया है।इसके बाद भी यदि प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग का रवैया बीते 3 दिनों जैसा बना रहा तो फिर कोरोना वायरस के संक्रमण को फैलने से रोकना प्रशासन के लिए ही सरदर्द बन सकता है।

Author Profile

Lokesh war waghmare - Founder/ Editor
Latest entries

Related Post

ठेकेदार की मनमानी… बेतरतीब नाला निर्माण से लोगो की जान आफत में… बड़ी दुर्घटना हुई तो कौन होगा जिम्मेदार ?… निगम अधिकारीयों का उदासीन रवैया… घरों में कैद होने मजबूर वार्डवासी…
लोकतंत्र सेनानियों का श्राप लगा भूपेश सरकार को… सच्चिदानंद उपासने… 26 जून को मुख्यमंत्री के आवास में साय का स्वागत करेंगे सेनानी…
जमीन फर्जीवाड़ा : पहले सरकारी जमीन को निजी व्यक्ति के नाम चढ़ाया फिर बेच दी लाखो में… जमीन दलाल और पटवारी की मिलीभगत… मामला उजागर हुआ तो रजिस्ट्री हुई शून्य… न्याय की आस में भटक रहे पीड़ित…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You missed