प्रदेश सरकार को शराब से मिले 6831 करोड़ 71 लाख रूपए का राजस्व ,, विपक्ष ने अवैध शराब और अधिक दर पर शराब बिक्री का लगाया आरोप ,,

प्र्रदेश सरकार को शराब से 6831 करोड़ 71 लाख रूपय मिले

अधिक दर पर शराब बेचने और गबन करने वाले 700 कर्मचारियों को नौकरी से निकाल दिया गया है

मंत्री ने सदन में बताया कि शराब में पानी मिलाकर बेचने पर 20-22 कर्मचारियों के खिलाफ कार्रवाई की गई

अधिक दर पर शराब बेचने की 5551 शिकायतें मिलीं

रायपुर (शशि कोन्हेर)// छत्तीसगढ़ विधानसभा में शराब पर हुए सवाल जबाव के बीच विभागीय मंत्री कवासी लखमा ने सत्तापक्ष के विधायक संतराम नेताम के सवाल पर बताया कि वर्ष 2019 से लेकर जून 2020 तक शासन को शराब की बिक्री से 6831 करोड़ 71 लाख रुपए राजस्व के रूप में मिले। प्रदेश में 337 देशी व 321 विदेशी दुकाने संचालित हो रही हैं। यह भी बताया कि अधिक दर पर शराब बेंचने वाले व गबन करने वाले 7 सौ कर्मचारी नौकरी से निकाले गए।
प्रदेश की शराब दुकानों में अधिक दर पर शराब बेचने और गबन आदि के मामले में प्लेसमेंट एजेंसी के 7 सौ कर्मचारियों के खिलाफ कार्रवाई की गई है।

यह जानकारी आबकारी मंत्री कवासी लखमा ने गुरूवार को विधानसभा में दी। नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक ने आरोप लगाया कि प्रदेश में सरकारी संरक्षण में बड़े पैमाने पर अवैध शराब की बिक्री हो रही है। दूकानों में अधिक दर पर शराब बिक्री की जा रही है। इससे सरकार को राजस्व का नुकसान हो रहा है। नेता प्रतिपक्ष कौशिक के सवाल के जवाब में
आबकारी मंत्री ने बताया कि प्रदेश में एक जनवरी 2019 से अब तक अधिक दर पर शराब बेचने की 5551 शिकायतें आई हैं। उन्होंने कहा कि अधिक दर पर शराब बेचने और गबन आदि की शिकायत पर 7 सौ कर्मचारियों को नौकरी से निकाल दिया गया है।
आबकारी मंत्री ने पूरक सवाल के जबाव में बताया कि गड़बड़ी के आधार पर दंड का निर्धारण किया गया है।नेता प्रतिपक्ष कौशिक ने कहा कि सरकार ने प्लेसमेंट एजेंसी के खिलाफ एफआईआर दर्ज क्यों नहीं कराई। जबकि सारे कर्मचारी प्लेसमेंट एजेंसी के थे? आबकारी मंत्री ने कहा कि भले ही प्लेसमेंट एजेंसी के कर्मचारी हैं, लेकिन विभाग के लोग इसकी मॉनिटरिंग करते हैं, इसलिए उनके खिलाफ कार्रवाई नहीं की गई।

नेता प्रतिपक्ष ने आरोप लगाया कि सरकार की देखरेख में अधिकारी और प्लेसमेंट एजेंसी की मिलीभगत से शराब में पानी मिलाकर बेचा गया है। उन्होंने इस पर कार्रवाई को लेकर जानकारी चाही, उन्हे बताया गया कि शराब में पानी मिलाकर बेचने पर 20-22 कर्मचारियों के खिलाफ कार्रवाई की गई है। आबकारी मंत्री लखमा ने बताया जो भी शिकायते सही रूप से मिल रही है सरकार तत्काल में सख्त कार्रवाई कर रही है।

Author Profile

Lokesh war waghmare - Founder/ Editor
Latest entries

Lokesh war waghmare - Founder/ Editor

Next Post

प्रदेश में तहसीलदारों और नायाब तहसीलदारों की ट्रांसफर सूची तैयार होने की सुगबुगाहट ,, जल्द हो सकती है जारी ,,

Thu Aug 27 , 2020
प्रदेश में तहसीलदारों और नायब तहसीलदारों के तबादलों की लिस्ट तैयार होने की चर्चा ,, बिलासपुर (शशि कोन्हेर ) // प्रदेश में जल्द ही बड़ी संख्या में तहसीलदारों और नायब तहसीलदारों के तबादले की चर्चा राजधानी रायपुर में सरगर्म है। भरोसेमंद सूत्रों से मिली खबर के मुताबिक इस तबादले की […]

You May Like

Breaking News