बिलासपुर : सौ बिस्तरों वाला संभागीय कोरोना सेंटर का विधायक शैलेश ने किया निरीक्षण …

बिलासपुर // बिलासपुर में कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए जिला प्रशासन पूरी तरह से मुस्तैद है, हालांकि जिले में एक भी पॉजिटिव केस नही है, सावधानी के लिए स्वास्थ्य महकमा घर घर जा कर लोगो की स्क्रीनिंग कर रहा है और लोगो की स्वास्थ्य और ट्रैवल हिस्ट्री की जानकारी जुटा रहा है,स्वास्थ्य विभाग के साथ नगर विधायक शैलेश पांडे भी शहर के वार्डो में लगातार निरीक्षण कर रहे है वे इस दिशा में ज्यादा गंभीर हैं। वे सिम्स का भी निरीक्षण कर रहे हैं। WHO ने लगातार यह अलर्ट जारी कर कहा है कि आने वाले छह महीनों तक कोरोना को लेकर सतर्क रहना बेहद जरूरी है।प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव ने भी एक बयान में कहा कि आने वाले छह माह तक छत्तीसगढ़ के लोगों को काफी सावधान बरतनी पड़ेगी। सरकार से लगातार मिल रहे निर्देश के तहत ही अस्पताल की क को चुस्त-दुरुस्त रखा जा रहा है।

बिलासपुर संभाग के लिए बिलासपुर जिला अस्पताल परिसर में सौ बिस्तरों का कोरोना सेंटर तैयार किया गया है। जिसमें तीन आईसीयू सहित प्राइवेट रूम की भी व्यवस्था की गई है। इसे संभागीय कोरोना सेंटर के रूप में विकसित किया जा रहा है। हालांकि छत्तीसगढ़ में अभी तक कोरोना के जो भी पॉजीटिव पाए गए हैं उनको इलाज के लिए एम्स में भेजा गया है। बिलासपुर में तैयार किए जा रहे यह सेंटर इमरजेंसी के तौर पर है। सरकार का यह मानना है कि कोरोना के संक्रमण के हिसाब से अप्रैल माह का अंतिम सप्ताह और मई माह का प्रथम सप्ताह महत्वपूर्ण है। इस दौरान विशेष सावधानी बरतने की जरुरत होगी। संभागीय कोरोना सेंटर में सोमवार को विधायक शैलेश पांडेय ने चिकित्सा विशेषज्ञों के साथ बातचीत की और जरुरी निर्देश भी दिए। निरीक्षण के दौरान स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव के प्रतिनिधि पंकज सिंह भी मौजूद थे।

Author Profile

Lokesh war waghmare - Founder/ Editor
Latest entries

Lokesh war waghmare - Founder/ Editor

Next Post

लॉकडाउन में मनरेगा बना आय का महत्वपूर्ण आधार ... 32 हजार से अधिक ग्रामीण मजदूर सोशल डिस्टेंसिंग के साथ प्रतिदिन कर रहे काम ....

Mon Apr 20 , 2020
बिलासपुर // कोरोना महामारी के चलते जारी लॉक डाउन के बीच महात्मा गांधी नरेगा जिले में ग्रामीणों की आय का एक महत्वपूर्ण आधार बना हुआ है। मुख्यमंत्री के निर्देश के अनुरूप उन्हें प्राथमिकता से रोजगार उपलब्ध कराये जा रहे हैं। बिलासपुर एवं गौरेला-पेन्ड्रा-मरवाही जिले में सोशल डिस्टेंसिंग के साथ वे […]

You May Like

Breaking News