महाराष्ट्र और हरियाणा में विधानसभा चुनाव का ऐलान 21 अक्टूबर को होंगे मतदान

नई दिल्ली / चुनाव आयोग ने महाराष्ट्र और हरियाणा विधानसभा चुनाव तारीखों का ऐलान कर दिया है। मुख्य चुनाव आयुक्त सुनील अरोरा ने आज दोपहर एक प्रेस कॉन्फ्रेंस करते हुए चुनाव तारीखों का ऐलान किया है। इसी के साथ दोनों ही राज्यों में आचार संहिता लागू हो गई है। दोनों ही राज्यों में सिर्फ एक चरण में चुनाव होगा। मतदान की तारीख जहां 21 अक्टूबर रखी गई है वहीं 24 अक्टूबर को नतीजे आ जाएंगे।

अहम बातें-

– नोटिफिकेशन 27 सितंबर को

– नोटिफिकेशन की आखिरी तारीख 4 अक्टूबर

– 7 अक्टूबर तक नाम वापसी की जा सकती है

– दोनों राज्यों में एक चरण में 21 अक्टूबर को होगा मतदान

– 24 अक्टूबर को आएंगे नतीजे।

– चुनाव आयुक्त ने प्रेस कॉन्फ्रेंस को संबोधित करते हुए कहा कि महाराष्ट्र में 8.9 करोड़ मतदाता है वहीं हरियाणा में 1.28 करोड़ मतदाता हैं।

– आयोग ने उम्मीदवारों से कहा है कि उन्हें 30 दिन का चुनाव खर्च का हिसाब देना होगा।

– चुनाव में 28 लाख से ज्यादा खर्च नहीं कर सकते उम्मीदवार।

– आयोग ने उम्मीदवारों से अपील की है कि वो चुनाव में प्लास्टिक का उपयोग ना करें।

– मुख्य चुनाव आयुक्त सुनील अरोड़ा ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि हरियाणा-महाराष्ट्र में 2 नवंबर, 9 नवंबर को विधानसभा का कार्यकाल खत्म हो रहा है। ऐसे में इससे पहले इन राज्यों में चुनाव की प्रक्रिया पूरी होंगी।

– हरियाणा में 1.03 लाख बैलेट यूनिट हैं, जबकि महाराष्ट्र में 1.8 लाख बैलेट यूनिट, 1.28 लाख CU और 1.39 लाख वीवीपैट मशीनें हैं।

तारीखों का ऐलान से नतीजे तक, यह है पूरी प्रक्रिया

विधानसभा चुनावों की तारीखों का ऐलान होते ही दोनों राज्यों में आदर्श चुनाव संहिता लागू हो जाएगी। चुनाव घोषणा करने के सात दिन के अंदर आयोग को नोटिफिकेशन जारी करना होता है। नोटिफिकेशन जारी करने के बाद सातवें दिन नामांकन प्रक्रिया शुरू हो जाती है। नामांकन भरने के अंतिम दिन के बाद अगले दिन चुनाव अधिकारी उम्मीदवारों के फॉर्म की छंटनी करता है। छंटनी करने बाद दो दिन का समय नाम वापसी के लिए दिया जाता है

झारखंड पर असमंजस

हालांकि, इस बीच यह भी कहा जा रहा है कि फिलहाल केवल महाराष्ट्र और हरियाणा में की ही चुनाव तारीखों की घोषणा होगी जबकि झारखंड में विधानसभा का कार्यकाल दिसंबर में खत्म हो रहा है और संभवतः इसके लिए घोषणा कुछ समय बाद हो सकती है।

हरियाणा में विधानसभा की 90 सीटें हैं जबकि महाराष्ट्र में विधानसभा की कुल 288 सीटें हैं। महाराष्ट्र में भाजपा और शिवसेना गठबंधन की सरकार है। 2014 के चुनाव में भाजपा ने जहां 122 सीटें जीती थीं वहीं शिवसेना 63 सीटें जीत पाई थी। कांग्रेस 42 और एनसीपी को 41 सीटें मिली थीं।।

वहीं हरियाणा में भाजपा को 47 सीटों पर जीत मिली थी जबकि इनेलो को 19 और कांग्रेस को 15 पर जीत मिली थी।

दोनों राज्यों में एक से दो चरण में चुनाव कराए जाने की संभावना है. हरियाणा में एक चरण और महाराष्ट्र में एक या दो चरण में चुनाव संपन्न कराया जा सकता है

Author Profile

Lokesh war waghmare - Founder/ Editor
Latest entries

Lokesh war waghmare - Founder/ Editor

Next Post

हनी ट्रेप...ब्लैकमेल मामले में गिरफ्तार महिलाओं के लैपटॉप व मोबाइल में ऑडियो, वीडियो से मचा हड़कंप

Sun Sep 22 , 2019
3 पूर्व मंत्री, दर्जनभर आईएएस-आईपीएस के नाम आए सामने नगर निगम इंदौर के इंजीनियर पर 3 करोड़ रुपए के लिए ब्लैकमेल करने के आरोप में गिरफ्तार पांच महिलाओं समेत आधा दर्जन आरोपियों ने कई अहम और सनसनीखेज खुलासे किए हैं। आरोपियों के कब्जे से प्रदेश सरकार के तीन पूर्व मंत्रियों […]

You May Like

Breaking News