सीएमओ कार्यालय की लापरवाही डाल रही लोगों की जान खतरे में… कोविड-19 का मेडिकल वेस्ट अर्थात रद्दी, पीपीई किट, मार्क्स ग्लब्स के ढेर से संक्रमण का खतरा …

कोविड-19 का मेडिकल वेस्ट अर्थात रद्दी, पीपीई किट, मार्क्स ग्लब्स के ढेर से संक्रमण का खतरा …

बिलासपुर // आज पूरा बिलासपुर शहर कोविड-19 के संक्रमण के खतरे से जूझ रहा है। ऐसे में यदि स्वास्थ्य विभाग ही कोराना वायरस कोविड-19 के सैंपल जांच अथवा इलाज में उपयोगी मेडिकल वेस्ट को लापरवाही पूर्वक कहीं भी फेंकने लगे तो इसे क्या कहा जाएगा..। अफसोस कि बिलासपुर में ऐसा ही हो रहा है। यहां के सीएमओ ऑफिस स्थित क्षेत्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण प्रशिक्षण केंद्र छात्रावास के सामने काफी समय तक कोरना सैंपल की जांच की जाती थी। इस जांच के दौरान उपयोग में लाए जाने वाले पीपीई किट, मार्क्स ग्लब्ज सुमित मेडिकल वेस्ट को रद्दी की तरह बाहर फेंक दिया गया है। खुले में पड़ा हुआ मेडिकल वेस्ट का है ढेर, अपने आसपास संक्रमण का खतरा फैलाता नजर आ रहा है। स्वास्थ्य विभाग को चाहिए कि मेडिकल वेस्ट के ढेर को कहीं सुरक्षित जगह पर डिस्पोज ऑफ करे। साथ ही इस बात का ध्यान रखे कि शहर में कहीं भी मेडिकल वेस्ट फेकने में इस तरह की लापरवाही न बरती जाए। वरना इससे फैला संक्रमण जानलेवा साबित हो सकता है।

Author Profile

Lokesh war waghmare - Founder/ Editor
Latest entries

Lokesh war waghmare - Founder/ Editor

Next Post

भाजपा नेता व बैंक के पूर्व अध्यक्ष देवेंद्र पांडे तथा उनके पुत्र शुभम पांडे हुए गिरफ्तार... पूर्व गृह मंत्री ननकीराम कंवर के पुत्र संदीप करवा के साथ मारपीट करने का आरोप... ननकीराम कंवर ने देवेंद्र और शुभम पांडे की गिरफ्तारी न होने पर मुख्यमंत्री निवास के सामने रायपुर में धरना देने की घोषणा की थी...

Mon Sep 7 , 2020
बिलासपुर जिला केंद्रीय सहकारी बैंक के पूर्व अध्यक्ष देवेंद्र पांडे तथा उनके पुत्र शुभम पांडे हुए गिरफ्तार… पूर्व गृह मंत्री ननकीराम कंवर के पुत्र संदीप कंवर के साथ मारपीट करने का आरोप… ननकीराम कंवर ने देवेंद्र और शुभम पांडे की गिरफ्तारी न होने पर मुख्यमंत्री निवास के सामने रायपुर में […]

You May Like

Breaking News