सीएम भूपेश बघेल कि मासिक रेडियोवार्ता लोकवाणी के सातवीं कड़ी का प्रसारण…मुख्यमंत्री के लोकवाणी को सुना शहर के विभिन्न वर्ग के लोगों ने ..बच्चों को हमेशा प्रोत्साहित करना चाहिए -महापौर…

बिलासपुर // मुख्यमंत्री भूपेश बघेल कि मासिक रेडियोवार्ता लोकवाणी के सातवीं कड़ी का प्रसारण रविवार को किया गया। मुख्यमंत्री अपनी वार्ता के माध्यम से परीक्षा प्रबंधन और युवा कैरियर के आयाम विषय पर विद्यार्थियों, युवाओं और उनके पालकों से रूबरू हुए। लोक वाणी को बिलासपुर शहर के जनप्रतिनिधियों और विभिन्न वर्ग के लोगों ने सुना और अपनी प्रतिक्रियाएं दी।
लोकवाणी सुनने के बाद नगर निगम बिलासपुर के महापौर रामशरण यादव ने कहा कि परीक्षा का तनाव व भय दूर करने के लिए मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने जो सुझाव विद्यार्थियों और के पालकों को दिया है वह बहुत महत्वपूर्ण है। पालकों को चाहिए कि वे अपने बच्चों को हमेंशा प्रोत्साहित करें, विशेषकर परीक्षा के समय बच्चों के मददगार बनना चाहिए। उनकी हर छोटी-छोटी जरूरतों की ओर ध्यान देने से बच्चों का भी मनोबल बढ़ेगा और परीक्षा का तनाव कम होगा। उन्होंने ने आगे कहा कि प्रदेश के युवाओं को स्थायी रोजगार देने के लिए जो कदम सरकार ने उठाया है वह सराहनीय है। स्कूल कालेजों में 20 हजार पदों की भर्ती के साथ-साथ अन्य विभागो में भी नौकरी के लिए दरवाजें खोंले जा रहें हैं। मुख्यमंत्री ने विद्यार्थियों से कहा कि केवल पढ़ाई में मेरिट आकर अच्छा कैरियर नहीं बनाया जा सकता। बल्कि अपने हुनर के दम पर भी युवा अच्छा रोजगार पा सकतें हैं। इस बात से युवाओं को भी प्रेरणा मिलेगी और वे पढ़ाई में प्रतिस्पर्धा के तनाव से मुक्त होंगे।

कालेज महाविद्यालय में अध्ययनरत छात्रा लोपामुद्रा को लोकवाणी में मुख्यमंत्री की कही यह बात की मनके हारे हार है और मनके जीते जीत बहुत अच्छी लगी और इससे उसे यह प्रेरणा मिली की आत्मबल और आत्म विश्वास के सहारे हर क्षेत्र में सफलता हासिल की जा सकती है। परीक्षा के समय सारा ध्यान पढ़ाई में लगाने मोबाइल और सोसल मीडिया का सीमित उपयोग करने के मुख्यमंत्री के सुझाव पर उसने आज से अमल में लाने का प्रण किया। एक स्कूली छात्रा ने परीक्षा हाल में परीक्षा प्रारंभ होने के पूर्व छात्र-छात्राओं को मेडिटेशन कराने का सुझाव दिया था। मुख्यमंत्री ने इस सुझाव पर विचार करने की बात कही है। इस पर लोपामुद्रा ने प्रसंन्नता जतायी और कहा कि विद्यार्थियों को इससे बहुत फायदा होगा। परीक्षा को 20-20 मैच की तरह लेने के मुख्यमंत्री के सुझाव भी उसे बहुत सही लगा। इसी तरह छात्रा कु. सुमन, निवेदिता पंडा, ट्विंकल चांवला, प्रीति बंजारे, को भी परीक्षा का तनाव दूर करने के लिए मुख्यमंत्री द्वारा दिये गये सुझाव बहुत फायदेमंद लगे।

Author Profile

Lokesh war waghmare - Founder/ Editor
Latest entries

Lokesh war waghmare - Founder/ Editor

Next Post

नया जिला गौरेला-पेण्ड्रा-मरवाही बनने से आदिवासी अंचल के लोगों में भारी उत्साह....

Mon Feb 10 , 2020
बिलासपुर // नवगठित गौरेला-पेन्ड्रा-मरवाही जिला सोमवार 10 फरवरी को अस्तित्व में आ गया। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने विधिवत जिले का शुभारंभ किया। नये जिले के आकार लेने की सुखद अनुभूति से सराबोर इस आदिवासी अंचल के लोगों में भारी उत्साह है। नये जिले गठन से यहां निवास करने वाले सभी […]

You May Like

Breaking News