आईसीएआई बिलासपुर शाखा का 2 दिवसीय वेबिनार ,, वर्चुअल सीपीई मीटिंग का किया गया आयोजन ,,

बिलासपुर // कोरोना वायरस की वजह से पूरा देश अनिश्चितता के दौर से गुजर रहा है, इस अप्रत्याशित संकट में आईसीएआई की बिलासपुर शाखा के द्वारा समय-समय पर वर्चुअल सीपीई मीटिंग आयोजित की जा रही है। सरकार के द्वारा वर्तमान समय की आर्थिक अनिश्चितता को देखते हुए MSME, EPF, GST, INCOME-TAX सभी क्षेत्रों मे अनेक योजनाए और पैकेज दिए गए है, इन सभी योजनाओं का क्रियान्वयन सीए के द्वारा ही किया जा सकता है।

इसी क्रम में बिलासपुर शाखा ने संशोधित आचार संहिता के विषय पर वेबिनार का आयोजन किया जिसमें सीए अंशुमन जाजोदिया ने सभी सदस्यों को संशोधित आचार संहिता की जानकारी दी और प्रैक्टिस में रखने वाली सावधानी के बारे मे अवगत कराया।दो दिवसीय वेबिनार दिनाँक 13.06.2020 और 14.06.2020 को बिलासपुर शाखा के द्वारा आयोजित किया गया, जिसमें MSME की आवश्यक गाइडलाइन और EPF Act में हुए संशोधन के उपर चर्चा की गयी।

वर्चुअल सीपीई मीटिंग की अध्यक्षता सीए विवेक अग्रवाल ने की, उन्होंने बताया कि सीए ही अर्थव्यवस्था के स्तंभ है, वर्तमान समय की मांग के आधार पर सीए वेबिनार के माध्यम से स्वयं को अपडेट कर रहे है। शनिवार के वेबिनार में MSME से सम्बन्धित सभी जानकारी सीए अंचल जुनेजा ने प्रदान की और रविवार को सीए अविनाश टूटेजा ने EPF Act के संशोधन पर प्रकाश डाला।

कार्यक्रम को सफल बनाने में सीए मंगलेश पांडेय, सीए रजत अग्रवाल, सीए नवीन जिंदल, सीए उदय चौरसिया, सीए सचेन्द्र जैन,सीए रितेश टावरी का विशेष सहयोग रहा। ये जानकारी सीए आभास अग्रवाल और सीए अमित शुक्ला ने प्रदान की है ।

Author Profile

Lokesh war waghmare - Founder/ Editor
Latest entries

Lokesh war waghmare - Founder/ Editor

Next Post

राजस्थान के अलवर में फंसी कांकेर जिले की आदिवासी युवतियां ,, भाजपा ने दर्द दिया, तो कांग्रेस भी दवा से कर रही इंकार : माकपा ,,

Mon Jun 15 , 2020
रायपुर // मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी ने सोमवार को एक बहुत ही संवेदनशील और सनसनीखेज प्रकरण उजागर किया है, जिसमें कांकेर जिले की 19 से 24 वर्ष की 28 युवतियों के कोरोना संकट के कारण राजस्थान के अलवर में फंसे होने की पुष्ट जानकारी देते हुए आरोप लगाया है कि इसी […]

You May Like

Breaking News