ममता का एक बार फिर केंद्र सरकार पर निशाना ,, रेलवे प्रवासी कामगारों के लिए विशेष रेलगाड़ियां अपनी मर्जी और शर्तों पर चला रहा !

पश्चिम बंगाल // श्रमिकों की घर वापसी के मुद्दे को लेकर पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने एक बार फिर केंद्र सरकार पर निशाना साधा है। ममता बनर्जी ने कहा कि रेलवे प्रवासी कामगारों के लिए विशेष रेलगाड़ियां अपनी मर्जी और शर्तों पर चला रहा है। मुख्यमंत्री बनर्जी ने कहा कि पश्चिम बंगाल बड़ी आपदा (अम्फान के बाद) का सामना कर रहा है और रेलवे रोजाना श्रमिक ट्रेनें भेज रहा है। इससे कोविड-19 के मामलों में इजाफा होगा। ममता बनर्जी ने कहा कि वे (भाजपा) मुझे राजनीतिक रूप से परेशान कर सकते हैं, राज्य को क्यों नुकसान पहुंचा रहे हैं।

बता दें कि पश्चिम बंगाल सरकार ने मंगलवार को कहा कि अम्फान तूफान की वजह से हुई तबादी के बाद उसके पास दूसरे राज्यों में लौट रहे प्रवासी कामगारों की मदद करने के लिए आधारभूत संरचना अब नहीं है। साथ ही प्रदेश लौट रहे प्रवासियों को संस्थागत पृथकवास में रखने के बजाय घर में ही पृथक रखने की सलाह दी है।

गृह सचिव अलपान बंदोपाध्याय ने कहा कि राज्य के पास प्रवासी कामगारों को लेकर आने वाली 10-15 रेलगाड़ियों को रोजाना स्वीकार करने की क्षमता है और लॉकडाउन के बाद से लाखों लोग लौटें हैं। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार जन स्वास्थ्य के लिए इसे बड़ी समस्या मानती है। बंदोपाध्याय ने कहा कि दबाव उचित और बेहतर तरीके से प्रबंधन करने योग्य होना चाहिए।

गृह सचिव ने कहा, हम राज्य की विभिन्न सीमाओं और रेलवे स्टेशनों पर प्रक्रिया को सरल बना रहे हैं ताकि पृथकवास केंद्रों में भीड़ एकत्र न हो क्योंकि इससे कोरोना वायरस से संक्रमित होने का खतरा बढ़ जाता है। इसलिए स्वास्थ्य विभाग ने दिशा निर्देश बनाए हैं।

Author Profile

Lokesh war waghmare - Founder/ Editor
Latest entries

Lokesh war waghmare - Founder/ Editor

Next Post

छत्तीसगढ़ में अब शनिवार ,रविवार को भी खुलेंगे बाजार ,, नही रहेगा पूर्ण लॉकडाउन ,, सुबह 7 से शाम 7 बजे तक खोली जा सकेंगी दुकाने ,, देखे क्या है नए नियम !

Thu May 28 , 2020
छत्तीसगढ़ // प्रदेश में अब शनिवार और रविवार को भी खोली जा सकेंगी दुकानें ,सिर्फ कंटेनमेट एरिया और रेड जोन को छोड़ कर सभी गतिविधिया सामान्य रहेंगी , शासन ने पूर्ण लॉक डाउन के नियमों को रद्द कर दिया है। लॉकडाउनके दौरान बाजार की गतिविधियों, क्वारेंटीन सेंटर्स की व्यवस्थाओं के […]

You May Like

Breaking News