सांईबाबा जन्म स्थान विवाद: शिरडी व पाथरी के बाद एक और गांव “धुपखेड़ा” का नया दावा…सबसे पहले सांई बाबा का धुपखेड़ा में ही अवतरण: सांई चरित्र में भी उल्लेख..

शशि कोंन्हेर

सांई बाबा को लेकर परभणी जनपद के पाथरी और शिरडी के बीच का विवाद अब मुम्बई हाईकोर्ट जा पहुचा है।महाराष्ट्र के मुख्यमंन्त्री श्री उद्धव ठाकरे द्वारा पाथरी के विकास के लिए 100 करोड़ रुपये देने की घोषणा से शुरू हुआ यह विवाद कब खत्म होगा यह नहीं कहा जा सकता। मुख्यमंन्त्री उद्धव ठाकरे ने बड़ी मुश्किल से इस विवाद में झुलस रहे अपने हाथ को बचा लिया है।
लेकिन अब औरंगाबाद जिले के पैठनी साड़ियों के लिये प्रसिद्ध पैठण जनपद के धुपखेड़ा गांव के लोगों ने दावा किया है कि सांई बाबा का अवतरण सवसे पहले धुपखेड़ा में ही हुआ था। ग्रामीणों का तर्क है कि सांई बाबा के बारे में प्रामाणिक मानी जाने वाली पुस्तक सांई चरित्र में भी इस बात का जिक्र किया गया है।
गांव वालों का कहना है कि सबसे पहले सांई बाबा धुपखेड़ा में ही अवतरित हुए फिर शुरुवात के कुछ साल उन्होंने यही गुजारे । ऐसे में पैठन और शिरडी की बजाय विकास निधि का धुपखेड़ा गांव का दावा ज्यादा मजबूत है।ईस गांव के लोगो ने मुख्यमंन्त्री उद्धव ठाकरे से मांग की है कि वे बिना देर किए धुपखेड़ा गाँव के विकास के लिये भरपूर विकास निधि देने की घोषणा करें।

Author Profile

Lokesh war waghmare - Founder/ Editor
Latest entries

Lokesh war waghmare - Founder/ Editor

Next Post

PWD अधिकारी ने जानकारी देने के बजाय पत्रकार को ब्लैकमेलिंग में फंसाने की दे डाली धमकी.. सूचना के अधिकार के तहत पत्रकार ने मांगी थी जानकरी..

Sat Jan 25 , 2020
बिलासपुर // सूचना के अधिकार के तहत एक पत्रकार को विभाग से जानकारी मांगना महंगा पड़ गया दूसरी तरफ पत्रकार को अपीलीय अधिकारी ने प्रकरण की सुनवाई के दौरान दो ठेकेदार के सामने ब्लैकमेलिंग के आरोप में फ़साने की धमकी भी दे डाली। पत्रकार ने पूरे मामले में निष्पक्ष जांच […]

You May Like

Breaking News