महान संत शिरोमणि बाबा गुरु घासीदास की 266 वीं जयंती और नवयुवक कान्यकुब्ज विकास समिति एवं महिला प्रकोष्ठ द्वारा आयोजित युवक-युवती परिचय सम्मेलन में शामिल हुए विधायक शैलेष पांडेय…

महान संत शिरोमणि बाबा गुरु घासीदास की 266 वीं जयंती और नवयुवक कान्यकुब्ज विकास समिति एवं महिला प्रकोष्ठ द्वारा आयोजित युवक-युवती परिचय सम्मेलन में शामिल हुए विधायक शैलेष पांडेय…

मानवता की मूर्ति थे बाबा गुरु घासीदास – – – – शैलेष पाण्डेय…

समाज के द्वारा निकली रैली का सत्यम चौक में किया स्वागत…

बिलासपुर, दिसंबर, 18/2022

महान संत शिरोमणि बाबा गुरु घासीदास की 266 वी जयंती के अवसर पर समाज के द्वारा निकाली गई रैली का नगर विधायक शैलेष पांडेय ने सत्यम चौक में भव्यता के साथ स्वागत किया। इस दौरान उन्होंने समाज प्रमुखों का फूल माला और मिष्ठान वितरण कर गुरु पर्व की बधाई दी।

नगर विधायक शैलेष पांडेय ने बाबा गुरु घासीदास जयंती की बधाई देते हुए कहा कि बाबा गुरु घासीदास ने मानव समाज को मानवता का संदेश देने के साथ ही एक सूत्र में बांधने का कार्य किया है। बाबा गुरु घासीदास ने समूचे जगत के कल्याण का रास्ता दिखाया है। उनका सन्देश मनखे मनखे एक समान आपसी भाई-चारा और सबको एक सूत्र में बांधकर रखने का संदेश देता है। उन्होंने कहा कि बाबा जी की अमृत वाणी को हम सभी को अपने जीवन में आत्मसात करना चाहिए।

मानव जाति के उत्थान में संत बाबा गुरू घासीदास जी का जीवन अनुकरणीय है। हम सभी को उनके बताए ’मनखे-मनखे एक समान’ के संदेश को जीवन में उतारने की जरूरत है। उन्होंने कहा कि सत्य के रास्ते में चलकर मानवता के हित में काम करना चाहिए।

नवयुवक कान्यकुब्ज विकास समिति एवं महिला प्रकोष्ठ द्वारा आयोजित युवक-युवती परिचय सम्मेलन में शामिल हुए विधायक शैलेष पांडेय…

वैवाहिक परिचय सम्मेलन होने से रिश्ते तय करने में होती है आसानी – – – शैलेष पाण्डेय…

300 से अधिक युवक-युवतियों ने कराया पंजीयन…

नवयुवक कान्यकुब्ज विकास समिति एवं महिला प्रकोष्ठ बिलासपुर द्वारा लखीराम ऑडिटोरियम में आयोजित युवक-युवती परिचय सम्मेलन में नगर विधायक शैलेष पांडेय शामिल हुए। उन्होंने कहा कि इस प्रकार के परिचय सम्मेलन आयोजित होने से समाज को रिश्ते तय करने में आसानी होती हैं। कान्यकुब्ज ब्राह्मण समाज के द्वारा जो परिचय सम्मेलन आयोजित किया गया, उसके लिए वह बधाई के पात्र हैं।

उन्होंने कहा कि आज के इस आधुनिक जीवन शैली और समय के अभाव के चलते हम हमारे युवक- युवतियों की ओर ध्यान नहीं दे पाते हैं और हर वक्त यही मन में सवाल रहता है कि सबसे से पहले कहां से शुरूआत करें और हमें इसके लिए एक स्थान से दूसरे स्थान जाना पड़ता है, जिससे समय और पैसे की बर्बादी होती है। लेकिन आज हर समाजों द्वारा इस तरह के परिचय सम्मेलन आयोजित किए जा रहे जिससे समय तो बचता ही है और साथ ही सभी युवक-युवतियों को जानने और पहचानने का मौका भी इन परिचय सम्मेलन के माध्यम से मिल जाता है। इस तरह के आयोजन से समाज में एक नई विचारधारा का प्रवाह होगा।

गौरतलब है कि युवक-युवती परिचय सम्मेलन के शुभारंभ अवसर पर अतिथियों ने सरस्वती वंदना और दीप प्रज्जवलित किया। इसके बाद आयोजन समिति के पदाधिकारियों ने अतिथियों का स्वागत किया। कार्यक्रम में 300 से अधिक युवक तथा युवतियों ने अपना-अपना परिचय पंजीकरण कराया है।

Author Profile

Lokesh war waghmare - Founder/ Editor
Latest entries

Lokesh war waghmare - Founder/ Editor

Next Post

आबकारी विभाग ने ड्राई डे के पहले कोटा व सीपत में पकड़ी एमपी की शराब... 2 गिरफ्तार... इधर ड्राई डे में शहर के बारों में खुले आम बिकती रही शराब...

Mon Dec 19 , 2022
आबकारी विभाग ने ड्राई डे के पहले कोटा व सीपत में पकड़ी एमपी की शराब… 2 गिरफ्तार… इधर ड्राई डे में शहर के बारों में खुले आम बिकती रही शराब… आबकारी ने कोटा एवं सीपत में की शुष्क दिवस की पूर्व संध्या पर ताबड़ तोड़ कार्यवाही में, कोटा में मध्यप्रदेश […]

You May Like

Breaking News