बुजुर्ग पिता के हक़ में आया हाईकोर्ट का निर्णय… हाईकोर्ट ने मकान खाली कराने के निर्णय को रखा बरकरार…  जानिए क्या है पूरा मामला…

बुजुर्ग पिता के हक़ में आया फ़ैसला… हाईकोर्ट ने मकान खाली कराने के निर्णय को रखा बरकरार… जानिए क्या है पूरा मामला…

बिलासपुर, जनवरी, 07/2023

अपने बुजुर्ग पिता की देखभाल ना करने और असहाय पिता की जरूरतों को पूरा ना करने के एक संवेदनशील मामले में छत्तीसगढ़ हाईकोर्ट का बड़ा निर्णय आया है । जस्टिस दीपक तिवारी के बेंच ने इस मामले में निर्णय सुनाते हुए 7 दिनों के भीतर मकान खाली करवाने के आदेश को बरकरार रखते हुए बेटे की याचिका खारिज़ कर दी है । वहीं हाईकोर्ट ने एफसीआई से सेवानिवृत्त होने और पेंशन मिलने के कारण हर माह 5 हजार रुपये गुजारा भत्ता देने का आदेश निरस्त कर दिया है ।

मामला रायपुर स्थित कासिमपारा क्षेत्र का है,जहां के नीरज बघेल ने हाईकोर्ट में याचिका दायर की थी । याचिका में रायपुर कलेक्टर के द्वारा 7 दिनों के भीतर मकान खाली करने के आदेश को चुनौती दी गई थी । पिता सेवालाल बघेल ने रायपुर कलेक्टर के समक्ष मेंटेनेंस एन्ड वेलफेयर ऑफ पेरेंट्स एन्ड सीनियर सिटीजन एक्ट,2007 के प्रावधानों के तहत आवेदन दिया था,इसमें सुनवाई के दौरान आवेदनकर्ता पिता के द्वारा बताया गया कि रायपुर स्थित यह मकान उनके नाम पर है,जहां उनके बेटा और बहू रहते हैं और दोनों उनकी देखभाल नहीं करते । उनके खाने और इलाज का भी समुचित ध्यान नहीं दिया जाता । यहां तक कि उनके खुद के खरीदे घर में घुसने पर धमकी दी जाती है,यही वजह है कि उन्हें अपने बड़े बेटे के साथ रहना पड़ रहा है । हाईकोर्ट ने अपने महत्वपूर्ण निर्णय में मकान बेदखली के आदेश के खिलाफ दायर बेटे की याचिका खारिज करते हुए कहा है कि परंपरा की अनदेखी,लोकाचार और नैतिकता में गिरावट की वजह से बुजुर्गों की उपेक्षा की भावना बढ़ी है,ऐसे में उनके अधिकारों की रक्षा के लिए कानून की जरूरत है।

Author Profile

Lokesh war waghmare - Founder/ Editor
Latest entries

Lokesh war waghmare - Founder/ Editor

Next Post

संसदीय सचिव के खिलाफ सतनामी समाज ने खोला मोर्चा... कलेक्ट्रेट में जमकर की नारेबाजी... लगा गंभीर आरोप... जानिए क्या है पूरा मामला...

Mon Jan 9 , 2023
संसदीय सचिव के खिलाफ सतनामी समाज ने खोला मोर्चा… कलेक्ट्रेट में जमकर की नारेबाजी… लगा गंभीर आरोप… जानिए क्या है पूरा मामला… बिलासपुर, जनवरी, 9/2023 तखतपुर विधायक और संसदीय सचिव रश्मि आशीष सिंह ठाकुर द्वारा अनुसूचित जाति (सतनामी) समाज के समाजिक नेताओं से दुर्व्यवहार करने व तखतपुर विधायक के द्वारा […]

You May Like

Breaking News