• Sun. Jul 21st, 2024

News look.in

नज़र हर खबर पर

गाँव में घुप्प अंधेरा, लोनर हाथी ने तोड़ी दीवार … संसाधनविहीन ग्रामीणों ने शोर मचाकर खदेड़ा …

गाँव में घुप्प अंधेरा, लोनर हाथी ने तोड़ी दीवार

संसाधनविहीन ग्रामीणों ने शोर मचाकर खदेड़ा …

कोरबा // कोरबा तहसील क्षेत्र के ग्राम जिल्गा में शनिवार रात लोनर (दल से बिछड़े) हाथी ने बस्ती में घुस कर जमकर उत्पात मचाया। यहां के प्राथमिक शाला का आहाता भी तोड़ा। ग्रामीणों ने शोर मचाया तब जाकर लोनर हाथी जंगल की ओर भागा। रात भर ग्रामीणो ने हाथी के भय से रतजगा किया। ग्रामीणों ने बताया कि लोनर हाथी शनिवार को आधी रात बस्ती में घुस आया था और बाड़ी की तरफ उत्पात मचा रहा था। हाथी को भगाने के लिए सामग्री उपलब्ध नहीं था तब शोर मचा कर लोनर हाथी को जंगल की तरफ बड़ी मुश्किल से खदेड़ा जा सका। स्थानीय ग्रामीणों ने बताया कि जिल्गा गांव सहित आसपास बस्ती में शनिवार को रात भर बिजली गुल रही और रविवार को भी सुबह तक बिजली नही आई। इससे ग्रामीणों को परेशानी का सामना करना पड़ा। आये दिन यह हालात बनते रहते हैं जिससे अंधेरे में जंगली जानवरों से रक्षा कर पाना और उन्हें खदेड़ना काफी मुश्किल हो जाता है। यह गांव भी हाथी प्रभावित है लेकिन आपात स्थिति से निपटने के लिए विभाग और प्रशासन की तरफ से कोई संसाधन उपलब्ध नहीं कराए गए हैं।

शाम ढलते ही बस्ती में घुस आते हैं जंगली जानवर …

बताया गया कि जिल्गा में बीते शनिवार रात को बिजली गुल होने के कारण अंधेरा पसरा हुआ था इसी वजह से हाथी व अन्य जंगली जानवर गांव/ बस्ती में घुस आते है। बिजली रहती है तो रोशनी की वजह से जानवर बस्ती के आसपास नहीं आते और बाहर ही बाहर से निकल जाते हैं। रोशनी होने से ग्रामीणों को अपनी रक्षा करने के उपाय करने में आसानी होती हैं।

Related Post

6 ईई निलंबित, 4 को कारण बताओ नोटिस… सीएम के निर्देश पर बड़ी कार्रवाई… जल जीवन मिशन महत्वाकांक्षी योजना पर लापरवाही…
पंडित सुंदरलाल शर्मा मुक्त विश्वविद्यालय के छठवें दीक्षांत समारोह में शामिल हुए राज्यपाल विश्व भूषण हरिचंदन एवं मुख्यमंत्री विष्णुदेव साय…  विद्यार्थियों को मिले स्वर्ण पदक एवं उपाधियां…
डिप्टी सीएम साव मिले नगरीय निकायों के कार्यों में तेजी लाने केंद्रीय आवासन और शहर कार्य मंत्री मनोहर लाल खट्टर से की मुलाकात…. ठोस अपशिष्ट प्रबंधन के लिए 516 करोड़ और वेस्ट-टू-इलेक्ट्रिसिटी प्लांट के लिए 400 करोड़ की स्वीकृति का किया अनुरोध…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *