उपेक्षित रहा अरपापार… अलग नगर निगम बनाने की वर्षों पुरानी मांग को लेकर नागरिक सुरक्षा मंच का 24 को जनमत संग्रह…

उपेक्षित रहा अरपापार… अलग नगर निगम बनाने की वर्षों पुरानी मांग को लेकर नागरिक सुरक्षा मंच का 24 को जनमत संग्रह…

बिलासपुर, मई, 21/2023

शनिवार को बिलासपुर प्रेस क्लब में नागरिक सुरक्षा मंच ने अरपा पार सरकंडा को पृथक नगर निगम बनाए जाने की मांग को लेकर प्रेस वार्ता की। जिसमे पत्रकारों से चर्चा करते हुए सुरक्षा मंच के संयोजक अमित तिवारी ने बताया कि अरपा पार नगर निगम बिलासपुर का सबसे बड़ा हिस्सा है। परिसीमन के बाद यहां 22 वार्ड बने है। जिसमे करीब डेढ़ लाख मतदाता आते है। अरपा पर नगर निगम बनाने की मांग बरसों पुरानी है। फिर भी कोई शहर सरकार व एमआईसी ने आज तक कुछ नही किया अगर शासन को प्रस्ताव भेजा गया होता तो शायद आज अरपा पार अलग नगर निगम होता। उन्होंने आगे बताया कि 7 ग्राम पंचायतों को भी परिसिमन में शामिल किया था। इस लिहाज से अरपा पार क्षेत्र में 22 बड़े बड़े वार्ड हैं। इनमें से कई वार्डों के मतदाताओं की संख्या 7 से 11 हजार है। वर्तमान में बिलासपुर शहर के अंतर्गत अगर कहीं विकास हो रहा है तो वह क्षेत्र अरपा पार है। जिससे कि यहां पृथक निकाय का दावा मजबूत होता है। अगर अरपा पार को नगर निगम बना दिया जाता है तो यहां का विकास तेज गति से होगा, और व्यवस्थित राजस्व प्राप्ति के साधन बनेंगे।

अमित तिवारी ने कहा की क्षेत्र से लगे पंचायत सेंदरी, रमतला, बैमा नागोई, परसाही, लगरा, चिल्हाटी सहित कुछ गांवों को नगर निगम में शामिल कर ने नगर निगम को बड़ा किया जा सकता है। अरपा पार क्षेत्र जो कि वर्षो से उपेक्षित रहा है। जिससे क्षेत्र विकास की गति में तेजी आएगी। तथा अपने स्वयं के अस्तित्व को बनाए रखने में सफल भी होगा। अरपा पार पृथक नगर निगम की जन अपेक्षित मांग है जो कि पिछले 25 वर्षों से लगातार उठाई जा रही है।

जनमत संग्रह…

इस मुद्दे पर नागरिकों की बैठक दिनांक 21 मई 23 को शाम 4:00 बजे अशोक वाटिका बिलासपुर में आहूत की गई है। इस मुद्दे के संबंध में दिनांक 24 मई 2023 को सुबह 11:00 बजे से महामाया चौक सरकंडा बिलासपुर में जनमत संग्रह कराया जाएगा।

नया रायपुर जैसे अरपा पार को बनाएं नया बिलासपुर…

संयोजक अमित तिवारी का कहना है कि नया रायपुर की तर्ज पर अरपा पार को नया बिलासपुर के रूप में विकसित किया जाए और ये तभी संभव है जब इसे अलग नगर निगम बनाया जाएगा इससे अरपा पार का विकास होगा और यहाँ के रहवासियों को बुनियादी सुविधाएं मिल पाएगी।

बड़े बड़े संस्थान है अरपा पार…

अरपा पार स्टेडियम, एसईसीएल, अपोलो हॉस्पिटल, सेंट्रल लायब्रेरी, अटल यूनिवर्सिटी, प. सुंदरलाल शर्मा मुक्त विवि, कृषि महाविद्यालय है। इसलिए अरपा पार को अलग नगर निगम बनाना जरूरी है ये यहां के रहवासियों का हक है। उन्हें उनका हक मिलना चाहिए।

Lokesh war waghmare - Founder/ Editor

Next Post

टीआई लाइन अटैच... एसपी ने जारी किया आदेश...

Sun May 21 , 2023
टीआई लाइन अटैच… एसपी ने जारी किया आदेश… बिलासपुर, मई, 21/2023 रेप पीड़िता की मां पर एफआईआर कर जेल भेजने के मामला अब तूल पकड़ता जा रहा है, हिन्दू संगठन ने इस मामले में रविवार को रतनपुर बंद करवाया है और चक्काजाम किया गया हैं। टीआई को हटाने और निष्पक्ष […]

You May Like

Breaking News