भाजपा शासनकाल में शहर में गुंडागर्दी और प्रशासनिक आतंकवाद चरम पर था… बीजेपी सांसद स्व. जूदेव ने दी थी प्रतिक्रिया : शैलेष पांडे…

भाजपा शासनकाल में शहर में गुंडागर्दी और प्रशासनिक आतंकवाद चरम पर था… बीजेपी सांसद स्व. जूदेव ने दी थी प्रतिक्रिया : शैलेष पांडे…

बिलासपुर, नवंबर, 02/2023

शहर विधायक और बिलासपुर विधानसभा क्षेत्र के कांग्रेस प्रत्याशी शैलेष पांडे ने भाजपा BJP प्रत्याशीसेठ अमर अग्रवाल Amar Agrawal द्वारा बिलासपुर शहर को अपराध मुक्त किए जाने की लंबी चौड़े दावे पर प्रतिक्रिया वक्त करते हुए कहा कि सेठ अमर अग्रवाल को यह भी याद रखना चाहिए कि उन्ही के पार्टी के बिलासपुर सांसद रहे स्वर्गीय दिलीप सिंह जूदेव ने अपने समर्थक के साथ हुई घटना को लेकर बिलासपुर में यह प्रतिक्रिया व्यक्त की थी कि बिलासपुर समेत पूरे प्रदेश में प्रशासनिक आतंकवाद चल रहा है और वे मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह इस बारे में बात करेंगे ।इससे स्पष्ट होता है कि भारतीय जनता पार्टी BJP के शासनकाल में तथा सेठ अमर अग्रवाल Amar Agrawal के मंत्रित्व काल बिलासपुर शहर में गुंडागर्दी और प्रशासनिक आतंकवाद चरम पर था जिसे सेठ अमर अग्रवाल का संरक्षण प्राप्त था । जिसके चलते बिलासपुर के सांसद को सार्वजनिक तौर पर स्वीकार करना पड़ा था कि भाजपा शासनकाल में प्रशासनिक आतंकवाद चल रहा था ।आज सेठ अमर अग्रवाल Amar Agrwal किस मुंह से शहर में गुंडागर्दी की बात कर रहे है ।उनके ही कार्यकाल में उनके ही निर्देश और संरक्षण में कांग्रेस भवन में पुलिस ने घुसकर कांग्रेस कार्यकर्ताओं की बेरहमी पूर्वक पिटाई की थी।

शैलेष पांडेय ने कहा कि वे सेठ अमर अग्रवाल Amar Agrawal को याद दिलाना चाहेंगे कि पत्रकार सुशील पाठक की हत्या की घटना पर वे क्यों मौन रहे ?मैग्नेटो माल में युवक की संदिग्ध मौत या हत्या!की घटना पर सारा शहर जानता है कि अमर अग्रवाल ने क्या क्या किया । मोपका में सरकारी जमीन का घोटाला और जमीन का बंदर बांट तथा सरकारी दस्तावेज की हेरा फेरी किसके कार्यकाल में हुआ यह भी शहर की जनता अच्छी तरह जानती है ।पूरे प्रदेश में राजस्व विभाग में 22 बिंदु सिर्फ बिलासपुर में ही लागू क्यों किया गया इसके पीछे तत्कालीन राजस्व मंत्री अमर अग्रवाल Amar Agrawal की क्या भूमिका और संलिप्तता रही यह भी शहर की जनता अच्छी तरह जानती है। सेठ अमर अग्रवाल Amar Agrawal के मंत्रित्वकाल में किस तेजी के साथ उनके संरक्षण में भू माफिया बड़े और सरकारी तथा निजी जमीन के खसरा नंबर कैसे पीछे उड़कर चले जाते थे यह भी शहर की जनता अच्छी तरह जानती है ।शहर में भू माफियाओं की बाढ़ सेठ अमर अग्रवाल Amar Agrawal के मंत्रित्व काल में ही आया जिसकी सजा शहर की जनता आज भी भोग रही है इसलिए सेठ अमर अग्रवाल से अपेक्षा है कि वे शहर की जनता को नैतिकता का पाठ पढ़ाना बंद करें ।

Author Profile

Lokesh war waghmare - Founder/ Editor
Latest entries

Lokesh war waghmare - Founder/ Editor

Next Post

कोटा के मतदाताओं का आर्शीवाद और प्यार मुझे मिल रहा हैं.. कोटा विधानसभा का वैभव पुनः स्थापित हो इसके लिए पूरा प्रयास करूंगा : अटल श्रीवास्तव... निर्दलीय प्रत्याशी जावेद खान ने अटल श्रीवास्तव के समर्थन में नाम वापस लिया...

Thu Nov 2 , 2023
कोटा के मतदाताओं का आर्शीवाद और प्यार मुझे मिल रहा हैं.. कोटा विधानसभा का वैभव पुनः स्थापित हो इसके लिए पूरा प्रयास करूंगा : अटल श्रीवास्तव… निर्दलीय प्रत्याशी जावेद खान ने अटल श्रीवास्तव के समर्थन में नाम वापस लिया…. बिलासपुर, नवंबर, 02/2023 कोटा कांग्रेस प्रत्याशी अटल श्रीवास्तव Atal Srivastav आज […]

You May Like

Breaking News