बिना प्लानिंग इंदिरा सेतु के पास कैमरे लगाने सड़क की बेतरतीब खुदाई… स्मार्ट सिटी पर लगा 10 लाख रुपए का जुर्माना…

स्मार्ट सिटी पर 10 लाख रुपए पेनाल्टी… नेहरू चौक में कैमरे लगाने के लिए खोदी गई सड़क धंस गई…. मेयर इन कौंसिल में जुर्माना का प्रस्ताव पास

बिलासपुर, सितंबर, 07/2022

बिना प्लानिंग के इंदिरा सेतु के पास कैमरे लगाने के लिए सड़क की बेतरतीब खुदाई कर दी गई, जिसकेे चलते पाइप लाइन के टूटते ही गड्ढे में पानी भर गया, जिससे सड़क धंस गई। इस मामले को गंभीरता से लेते हुए मेयर रामशरण यादव ने स्मार्ट सिटी प्राइवेट लिमिटेड पर 10 लाख रुपए पेनाल्टी लगाई है।
स्मार्ट सिटी प्राइवेट लिमिटेड द्बारा इन दिनों शहर में कैमरे लगाए जा रहे हैं। इसके लिए सड़क की खुदाई की जा रही है। बीते दिनों इंदिरा सेतु के पास पांच फीट गहरा और 10 फीट लंबा गड्ढा खोद दिया गया।

इसके लिए नगर निगम से न तो परमिशन और न ही पाइप लाइन का नक्शा लिया गया था। नतीजा यह हुआ कि पेयजल सप्लाई के लिए बिछाई गई पाइप लाइन फूट गई, जिसके चलते गड्ढे में पानी भर गया और सड़क धंस गई। इसकी जानकारी मिलते ही मेयर ने स्मार्ट सिटी प्राइवेट लिमिटेड पर जमकर नाराजगी जताई। उनके निर्देश पर आयुक्त अजय त्रिपाठी ने कंपनी पर पेनाल्टी लगाने के लिए एमआईसी में प्रस्ताव रखा, जिसे एमआईसी सदस्यों ने ध्वनिमत से पारित कर दिया।

पचरी घाट का निरीक्षण, विसर्जन के लिए सफाई कराने के निर्देश…

महापौर ने स्वास्थ्य विभाग के चेयरमैन राजेश शुक्ला के साथ बुधवार सुबह वार्ड क्रमांक 35 पचरी घाट का निरीक्षण किया। इस दौरान उन्होंने गणेश विसर्जन के लिए घाट की सफाई कराने के निर्देश दिए। उन्होंने घाट से नदी में उतरने के लिए व्यवस्था करने के लिए कहा। इसके बाद उन्होंने वार्ड क्रमांक 40 पावर हाउस मेन रोड भगवती ट्रेडर्स के पास व वार्ड क्रमांक 58 रामा लाइफ सिटी के पास बहतराई रोड में नाली सफाई का निरीक्षण किया और उचित दिशा-निर्देश दिए।

Lokesh war waghmare - Founder/ Editor

Next Post

घुमंतू जनजातियों को विकास की मुख्यधारा में शामिल करने की जरूरत : प्रो. रजनीश कुमार शुक्‍ल...

Wed Sep 7 , 2022
घुमंतू जनजातियों को विकास की मुख्यधारा में शामिल करने की जरूरत : प्रो. रजनीश कुमार शुक्‍ल… वर्धा, सितंबर, 07/2022 महात्मा गांधी अंतरराष्ट्रीय हिंदी विश्‍वविद्यालय, वर्धा के कुलपति प्रो. रजनीश कुमार शुक्ल ने मंगलवार को कहा है कि विमुक्‍त एवं घुमंतू जनजातियां वास्तविक स्वातंत्र्य योद्धा थे। योद्धा या लड़ाकू प्रवृत्ति के […]

You May Like

Breaking News